क्या करने से सूर्यदेव दिलाते हैं मान सम्मान और मिटते हैं कुंडली दोष, जानिए !

क्या करने से सूर्यदेव दिलाते हैं मान सम्मान और मिटते हैं कुंडली दोष, जानिए !

धर्म एवं आस्था डैस्कः हमारे वेदों और पुराणों में सूर्य देव की महिमा को विस्तार से बताया गया है। हिंदू धर्म में पंचदेव बताए गएं हैं जिनकी पूजा से हर प्रकार के कष्टों से मुक्ति मिलती है। वो हैं, सर्वप्रथम पूजनीय भगवान गणेश, भगवान शिव, भगवान विष्णु, मां दुर्गा व सूर्यदेव हैं। भगवान सूर्य साक्षात दिखाई देने वाले भगवान हैं व सभी ग्रहों के स्वामी भी। इसलिए उनकी आराधना करने से बाकी ग्रह भी नुकसान नहीं पहुंचाते। वेदों में सूर्य को संसार की आत्मा माना गया है। ऋग्वेद में देवताओं में सूर्य का महत्वपूर्ण स्थान है। यजुर्वेद के अनुसार सूर्य को भगवान का नेत्र माना जाता है और ब्रह्मवैर्वत पुराण तो सूर्य को परमात्मा स्वरूप मानता है। अंधकार को दूर कर हमारे जीवन में उजियारा लाने वाले भगवान सूर्य के बिना जीवन सिर्फ अंधकार है। अतः जो कोई भी रोज़ सुबह सूर्यदेव के दर्शन करता है व जल चढ़ाता है उसके सूर्य व कुंडली के सब दोष दूर हो जाते हैं।

आइए जानते हैं क्या उपाय करने से सूर्य देव की कृपा मिलती है व घर परिवार और समाज में मिलता है मान-सम्मान।

  1. सुबह जल्दी उठकर नहाने के बाद सूर्य को जल चढ़ाना चाहिए। इसके लिए तांबे के लोटे में जल भरें और इसमें चावल, लाल फूल, लाल चंदन भी डालें। इसके बाद पूर्व दिशा की ओर मुंह करके सूर्य देव को अर्घ्य चढ़ाएं। इस दौरान सूर्य मंत्र ‘ऊँ सूर्याय नम:’ का जाप करें।
  2. सूर्य ग्रह के अशुभ असर से बचने के लिए अपने वजन के बराबर या अपने सामर्थ्य के अनुसार गेहूं का दान समय-समय पर करना चाहिए।
  3. लाल और पीले वस्त्रों का दान किसी गरीब व्यक्ति को करें।
  4. तांबे के बर्तन, गुड़ आदि चीजों का दान भी किया जा सकता है।
  5. अगर आप सूर्यदेव की कृपा पाना चाहते हैं तो अपने घर में सात घोड़ों के रथ पर सवार सूर्यदेव की फोटो लगानी चाहिए। ये फोटो पूर्व दिशा में लगाएं इससे घर में सकारात्मकता बढ़ती है। रोज सुबह घर से बाहर निकलने से पहले इस फोटो के दर्शन करना चाहिए और सूर्यदेव से प्रार्थना करनी चाहिए। ऐसा रोज करने से व्यापार, नौकरी और प्रमोशन से जुड़ी समस्याएं खत्म हो सकती हैं।

Leave a Reply

Close Menu
error: Content is protected !!