Religion & Astrology: उम्र के किस पड़ाव में कौन से ग्रह से आप होते हैं प्रभावित, जानिए ?

Religion & Astrology: उम्र के किस पड़ाव में कौन से ग्रह से आप होते हैं प्रभावित, जानिए ?

Religion & Astrology: ग्रहों से हमारे जीवन का गहरा रिश्ता है, ग्रहों की स्थिति के अनुसार हमारे जीवन में घटनाएं घटती हैं। जन्म से लेकर मृत्यु तक ग्रहों का प्रभाव हमारे जीवन पर कुछ इस कदर रहता है कि न चाहते हुए भी बहुत सी घटनाएं हमारे जीवन के अलग-अलग पड़ाव में घटित होती हैं। जीवन के किस पड़ाव में कौन सा ग्रह आपके जीवन को प्रभावित करता है आइए जानते हैं…।

-बृहस्पति यदि चतुर्थ भाव में होता है तो 16वें साल में व्यक्ति शिक्षा के क्षेत्र में लाभ मिलता है और छठे भाव में होने पर हानि होती है।

– व्यक्ति के 22वां वर्ष सूर्य का माना गया है। सूर्य के उच्च में होने पर सरकारी कामों में लाभ मिलता है और अशुभ होने पर सरकारी कामों में बाधा आती है।

– चंद्रमा ग्रह का असर 24वें वर्ष में होता है। उच्च दशा में होने पर व्यक्ति को सांसरिक सुख मिलते है, वहीं इस ग्रह की चाल बिगड़ने पर मानसिक तनाव होता है।

25वें वर्ष में शुक्र अपना असर दिखाता है। ग्रह की अच्छी स्थिति में सांसरिक सुख की प्राप्ति होती है और दशा बिगड़ने पर सुख में बाधा आती है।

– मंगल ग्रह का असर उम्र के 28वें वर्ष में दिखता है। अगर उस समय आपका मंगल ग्रह अच्छा है तो मकान जमीन जायदाद आदि में अधिक लाभ मिलेगा। वहीं अशुभ होने पर इसके विपरीत प्रभाव पड़ेगा।

– उम्र के 34वें वर्ष में बुध ग्रह अपना असर दिखाता है। यदि अच्छा हुआ तो आपको व्यापार में लाभ ही लाभ मिलेगा। नहीं तो व्यापार में हानि की संभावना रहती है।

– शनि का प्रभाव 36वें वर्ष में नजर आता है। अच्छा होने पर मकान, व्यवसाय और राजनीति में फायदा होता है, नहीं तो हानि होती है।

 राहु अपना असर 42वें वर्ष में अपना असर दिखाता है। शुभ होने पर राजनीति सहित सभी क्षेत्र में विशेष लाभ मिलता है। अशुभ होने पर व्यक्ति को षडयंत्र का शिकार होना पड़ता है।

– केतु का असर भी 42वें वर्ष में ही नजर आता है। शुभ होने पर संतान के संबंध में लाभ और अशुभ होने पर हानि होती है।

 

Leave a Reply

Close Menu
error: Content is protected !!